फेसबुक डेटा लिक होने के बाद मुख्य चुनाव आयुक्त ने फेसबुक को लेकर दिया चौकाने वाला बयान

0
219

फेसबुक कंपनी अपने डेटा लीक की वजह से इन दिनों काफी सुर्खियों में चल रही है. फेसबुक की सुरक्षा को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं.

इसी बीच मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने एक ऐलान कर सभी को चौंका दिया है. चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने घोषणा की है, कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में फेसबुक को चुनाव आयोग का सोशल मीडिया पार्टनर बने रहने की बात कही है ए पी रावत के मुताबिक कोई भी चूक आधुनिक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करने से नहीं रोकगी.

उन्होंने बताया, कि चुनाव आयोग का सोशल मीडिया प्रकोष्ठ नेताओं और राजनीतिक दलों के ऐप के उपभोक्ताओं की रजामंदी के बिना उनका डाटा शेयर करने के मुद्दे की जांच करेगा. इसके बाद प्रकोष्ठ इस मुद्दे पर चुनाव आयोग को अपनी सिफारिश देगा. जिसके बाद आयोग फैसला करेगा

हाल ही में इंटरव्यू में जब रावत से फेसबुक और चुनाव आयोग की सोशल मीडिया पर सवाल किया गया, तो उन्होंने कहा कोई भी आधुनिक प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल करने से नहीं रोकेगी. बैंक धोखाधड़ी हुई है, लेकिन हमने बैंकिंग नहीं रोक दी है.

उन्होंने बताया, कि Facebook का सोशल मीडिया पार्टनर बना रहेगा उन्होंने आश्वासन दिया कि चुनाव आयोग भारतीय चुनाव को प्रतिकूल तरीके से प्रभावित करने वाले प्रकरणों को रोकने के लिए अपनी तरफ से सभी तरह का एहतियात बरता जाएगा.

अमेरिकी चुनाव में कैंब्रिज एनालिटिका नाम की कंपनी ने फेसबुक के जरिये एक एप से डाटा लिक कर डोनाल्ड ट्रंप के लिए वोटर्स का डाटा एनालिसिस का काम करना शुरू कर दिया था. इस पूरे मामले पर फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग उन्हें खुद माना था, कि फेसबुक से चूक हो गई थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here