UAE में कोरोना वायर’स से संक्र’मित भारतीय नागरिक की हा’लत स्थिर

0
238

कोरोना वायर’स मौजूदा समय में पूरी दुनिया में परेशा’नी का स’बब बन चुका है। आलम यह है कि कई देशों को चीन के वुहान से फैले कोरोना वाय’रस से बचने के लिए चीन से आने वाले यात्रियों और मुसाफिरों पर बै’न लगा दिया। वही बात अगर संयुक्त अरब अमीरात की करें तो यहां के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, कोरोना वाय’रस से संक्र’मति अब तक कुल 8 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से 6 चीन के नागरिक, एक फिलीपींस और एक भारतीय नागरिक है।

हाल ही में जिस भारतीय के कोरोना वायर’स से संक्र’मित होने की बात सामने आई थी। उसकी हालत फिलहाल स्थिर बताई जा रही है। गल्फ न्यूज ने भारतीय दूतावास के अधिकारी के हवाले से बताया है कि भारतवंशी 36 वर्षीय पुरुष है, हालांकि अधिकारियों ने यह नहीं बताया कि भारतीय नागरिक किस राज्य से है और क्या वह कभी चीन गया है या नहीं। फिलहाल मरीज को वरिष्ठ डॅा’क्टरों की निगरानी में रखा गया है।

मालूम हो कि बीते रविवार को स्वास्थ्य एवं बचा’व मंत्रालय ने बताया था कि 2 नए म’रीज, जिसमें से एक चीनी नागरिक और दूसरा फिलीपींस का नागरिक है, में कोरोना वायर’स की बी’मारी का पता चला है। उन दोनों का देश के उच्च स्वा’स्थ्य मानकों के हिसाब से इ’लाज किया जा रहा है। जानकारी के लिए आपको बता दें, हाल ही में वुहान से छुट्टी मनाकर दुबई आए एक ही परिवार के चार सदस्यों के कोरोनो वायर’स से पी’ड़ित होने की पुष्टि हुई थी। इसके अलावा पांचवा मरी’ज चीन से आया था।

आखिर क्या है कोरोना वाय/रस के लक्षण- बात अगर कोरोना वाय/रस के लक्षण पर की जाए तो इसकी चपे/ट में आने वाले व्यक्ति को स्वाइ/न फ्लू की तरह बीमारी होती है। इसके संक्र/मण के दौरा/न मरीज को नाक बहना, बुखार, जुकाम, सांस लेने में सम/स्या, गले में खरा/श जैसी सम/स्या पैदा होती है। डाक्टरों के मुताबिक, इसके 48 घंटे के बाद निमोनिया और ब्रोंकाइटिस जैसी गंभीर बीमारियां मरीज को हो सकती हैं। मालूम हो कि शुरुआत में यह वाय/रस चीन के वोहान शहर से फैला। इसके बाद इसके पी/ड़ित थाईलैंड, सिंगापुर और जापान में देखने को मिले।हाल ही में इंग्लैंड का एक परिवार भी इसकी च/पेट में आ चुका है।

जानें इसके बचाव के उपाय- सावधा/नी बरतना ही कोरोना वायरस से बचाव का एकमात्र रास्ता है। आपको साव/धानी रखते हुए अपने हाथ को साबुन, पानी या अल्कोहल युक्त हैंड से जरूर साफ करें। इसके अलावा अपनी नाक और मुंह को ढककर ही छी/कना चाहिए। वहीं अगर कोई शख्स सर्दी या फिर जुकाम से पीड़ित हो तो उससे थोड़ी दूरी बनाए रखें। खास तौर पर चीन से सफर कर लौट रहे लोगों से दूर रहे। जिन देशों में यह बीमा/री का प्र/कोप है वहां पर यात्रा करने से बचें। साथ ही मास्क पहनिए और बच्चों और बुजुर्गों पर विशेष ध्यान दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here